khas log

vmbechainblogspot.com

Wednesday, 31 August 2011

काहे की सीता राम की जोड़ी

मैंने दोस्त से कहा यार आपकी और भाभी जी की तो सीता राम की जोड़ी है, तो दोस्त ने चिढ कर कहा काहे की सीता राम की जोड़ी बेचैन जी,,, ना तो आपकी भाभी को कोई रावण उठाता और ना कही धरती फटती,,,,,,,,,,???

इससे अच्छा है मैं ही रांड हो जाऊ,,,,

सुबह उठते ही मैंने पत्नी से कहा रात मैंने एक सपना देखा,, जिसमे तुम्हारी बीमारी के कारण मौत हो गई और मैं रंडवा हो गया,, सुनकर पत्नी ने कहा कम से कम आज ईद का दिन है,, आज तो शुभ शुभ बोलो.. भगवान तुझे रंडवा क्यों करे,,, इससे अच्छा है मैं ही रांड हो जाऊ,,,,