khas log

vmbechainblogspot.com

Thursday, 1 March 2012

आप बी रांड हो ..हम बी रांड हैं ..

एक बे एक गाम में इंदिरा गाँधी की सभा थी .. नारी- मुक्ति पे ,, ज्याँ कर के ने घणी सारी लुगाई बी कट्ठी कर राक्खी थी ..एक अंग्रेज forein delegate बी गेल्याँ आ रहया था ..
इंदिरा जी ने भाषण देणा शुरू करया ते रमलू की माँ उनने देखण तई खड़ी होगयी ... नत्थू सरपंच ने रुक्का मारया - आ रांड धरई जा !!!!
अंग्रेज ने पूछ लिया - What is Raand??
इईब उसते के बताते .. एक journlist बोल्या ..रांड means Great.. सबने सांस ल्यी...
अंग्रेज ने बोहत बढ़िया लाग्गया ..
वो आपणी टूटी सी हिंदी में बोलल्या - आप बी रांड हो ..हम बी रांड हैं ..पर इंदिराजी सबसे बड़ी रांड हैं ....

लुगाई तै बड़ा जादुगर नही सै धरती पै

मरण तै पहल्या माँ मैन्ने सही बतागी थी
लुगाई तै बड़ा जादुगर नही सै धरती पै

इश्क करया पाछे या बात समझ में आई
एक इज्जत तै बड़ा डर नही सै धरती पै

महबूब या भगवान का सजदा करया सै
कोए बिन झुक्या होया सर नही सै धरती पै

झील समन्दर पार्क सबके सब बकवास
कोए महबूबा तै सुंदर नही सै धरती पै 

सब पुराणी हरकता का अंजाम सै बेचैन
कोए भी तो ताज़ा खबर नही सै धरती पै  

तू हंसके बोल दे सै तो स्वाद आज्या सै

हलवे का अहसास मेरे याद आज्या सै
तू हंसके बोल दे सै तो स्वाद आज्या सै

तू साथ रहवे सै तब तक तो खुश रहू सूं
आंसू तो तेरे जावण के बाद आज्या सै

तू मेरी दुखती रग सै तू खूब जाणे सै
क्यूं तेरे नाम तै जख्मा राध आज्या सै

जद भी होया सै मैंने अहसास गलतिया का
होठों पै मुआफी की फरियाद आज्या सै

उसके प्यार में कोए कमी कोन्या बेचैन
पर वक्त बनके बीच में जल्लाद आज्या सै

बालक भी मेरा चेहरा पढ़ ज्या सै

दिलों-दिमाग पै नशा सा चढ़ ज्या सै
तैने देख के मेरा खून बढ़ ज्या सै

नाराज होके जद तू होवे सै गायब
नूर मेरी शक्ल का सारा झड़ ज्या सै

तेरी कसम मैं तो तैने भूल भी जाऊ
पर तेरी याद मेरे पीछे पड़ ज्या सै

मैं तो हमेशा चाहू सूं खुश रहणा
पर आंसू अपनी जिद पै अड़ ज्या सै


बेचैन होने इससे बड़ा के सबूत दूं
बालक भी मेरा चेहरा पढ़ ज्या सै