khas log

vmbechainblogspot.com

Monday, 27 June 2011

मैं जद भी गया रेस्टोरेंट

मैं जद भी गया रेस्टोरेंट बिल उसने दिया
ऑटो का आया जो भी रेंट बिल उसने दिया
वा सैन्डल लेवण गई तो मुझे बूट दुवा ल्याई
खरीदी मैंने जो भी पैंट बिल उसने दिया
कपडे प्रेस करान की भी दुकान बता राखी थी
छः महीन्या तक परमानेंट बिल उसने दिया
जो भी चीज़ पसंद आई यारां न गिफ्ट सेंटर म्ह
पंजी तक का सैंट परसेंट बिल उसने दिया
बेचैन बरगा प्यार भगवान दुश्मन न भी दे
कपड्या प छिडक्या जो भी सैंट बिल उसने दिया

तू राजनीती में आया तो उलटी कहानी बनेगी

बिगड़े राजनैतिक हालात देख क भगवान श्री कृष्ण ने सोचा
क्यों न भारत की हालत सुधार दू
विचार तो बड़ा नेक था
,,,,,,और इबके चुनवा में खुद को मैदान में उतर दू . लाखा में एक था,अब चारो तरफ या चर्चा छिड्गी, इबके भगवान चुनवा में उतरेगा,
इस मुद्दे पर राजनैतिक पार्टिया आपस में भिड्गी
खैर
जिसमे राजनैतिक पार्टिया का यो ए कह्न्ना था
इब बेशक तेरे नाम की लोग धुप लगाते हो
पर तू राजनीती में आया तो उलटी कहानी बनेगी
और तू तो खाली मक्खन ए खा सके स
किरसन तू कितने ही कपड़े पहर के आ जाईये
.... भगवन द्वारा नामांकन भरया गया, पूरे देश का सर्वे करया गया, अरे भगवान तैंने तो स्वर्ग में ही रहन्ना था , कृष्णा कृष्णा कहके तेरा जागरण करवाते हो , बात बात पे कसम झूठी खानी पड़ेगी, राजनीती की दही क्यूकर पचा सके स, नेता तैने नंग्या की कतार में खड्या कर देंगे जब साबित होवेंगे तब होवेंगे फ़िलहाल इल्ज़ाम का टोकरा सर पे धर देंगे,सुनके भगवान थोडा घबराया, फेर बी वो देश में इलेक्शन लड़न आया...इब दोस्तों ......राजनीती का गंदा खेल सरू हो लिया था, अर विरोधी पार्टिया न भगवान का कच्चा चिठा टोह लिया था, इब एक दल ने पर्चे छपवाए और रेलिया में बांग लगाई, रे यो भगवान कोन्या, इसकी तो जात यादव स भाई,
अर यादवा की संख्या स्टेट में बहुत कम स
अर वैसे भी यादवा का सबते बड़ा लीडर माहरी ओर स
नज़र घुमा के देखो भगवान का किते नहीं शोर स
अर कोए इसते पूछ्निया हो इसने अपने टेम में स्टेट खातर के करया था खास
बांसुरी तो बजाई जाके व्रन्दावन में अर हरयाने में आके बजाया बांस
अर उस बांस की वजह त खड्या नाश होया था
जिसमे पञ्च भाइया न पूरा कुनबा खोया था
इब सुनके भगवान थोड़े सकपकाए
पर आगे दूसरी पार्टी न मोर्चा खोल राख्या था
अर किरसन क खिलाफ हल्ला बोल राख्या था
विरोधी दल के नेता न मुस्कुराते हुवे जनता त बताया
वो जो इलेक्शन लड़न आरया स
वो न तो भगवान न खीर वो तो दलिया स
अर दलिए त पेट कोन्या भरया करे
यो तो सिर्फ बिमारा का इलाज़ करया करे
अर वैसे भी थम सारे जानो सो उसकी दस्तान
उसकी रासलीलाओ की कहानी बच्चा बच्चा जाने स
अर आज वो मजनू इलेक्शन में खड़ा होण की ठाने स
उसके जो घरवाली स वा भी भगा के ल्याई होई स
कोए पूछ्निया हो के रुकमनी ब्याह के ल्याई होई स
ऐसे आदमी क गर सता हाथ लाग जावेगी
तो माहरी बहु बेटी कितनी सुर्कसछित रह पावेगी
न्यू ए दूसरी पार्टी आल्या न भी बिगुल बजाया
अर भगवान श्री क्रिसन त आइना दिखाया
तू बेशक भगवान हो राजनीती में आया तो आदमी भी नहीं रहन दयांगे
पोलटिक्स की नाली में साफ सुथरे कीड़े नहीं बहण दयांगे
लगा लगा इल्जाम हल्ला बोल दयांगे
, भगवान चुनाव जीतेगा समर्थका क कोरा भ्रम स, फेर दुसरे ही पल मंद मंद मुस्कुराये अर आगे चल दिए, बहुत बड़ा छलिया स , जद यो होया करता जवान, आदमी का करेक्टर प्याज़ सा छोल दयांगे
.............
......
लगा लगा इल्जाम हल्ला बोल दयांगे ,आदमी का करेक्टर प्याज़ सा छोल दयांगे ........ आदमी का करेक्टर प्याज़ सा छोल दयांगे ........ आदमी का करेक्टर प्याज़ सा छोल दयांगे ........ आदमी का करेक्टर प्याज़ सा छोल दयांगे ........ आदमी का करेक्टर प्याज़ सा छोल दयांगे ....... आदमी का करेक्टर प्याज़ सा छोल दयांगे ......... आदमी का करेक्टर प्याज़ सा छोल दयांगे

मेरी हरियाणवी मधुशाला से आपके लिए दो पैग आज के लिए...............


गुड बरगे मीठे मन त रोज़ बनाऊ मैं दारू
फेर साँझ सवेरे धुप जला पटियाला से पैग मारू
उठा हाथ में पूरी बोतल, एक ही घूट में पी जाऊ
सों साल की उम्र दोस्तों एक ही रात में जी जाऊ

बेगाने शहर में ठेका, ढूँढना बड़ी बात नहीं
दारू की खुशबू न रोके, किसे की ओकात नहीं
किसे भी चोराहे की एक राह पर देख चाल क
थमने लोग झूमते पावेंगे, दारू गिलासा में घाल क

ल्यो भाईओ मेरी हरियाणवी मधुशाला से आप लोगो के आज के दो पैग

 
गम के घुट पी पी के सारा स्वाद बिगड़ लिया इब रोको मत ना मैं दारू पीवन लिकड लिया मुश्किल हिम्मत करके साहस जुटाया भाईओ
...
बुझा देवे प्यास दिल की कोए जा ठेके समझाइओ
बस दारू दारू रटता चल , कदे फसेगा ना मझधार दो घुट गले उतरया बाद हो जावेगा बेडा पार सब रोगा की एक दवाई ठेके भीतर रहवे तेरे पाप धो देवेगी बोतल जिसमे गंगा बहवे

किस लिए

छोरा लेट घर आया तो माँ ने धमकाया
क्यू खानदान की इज्ज़त उद्दा रहा स
सच बता कहाँ ते आ रहा स
सुन के छोरे न फरमाया
गर्ल फ्रेंड ते मिल के आया
माँ न पूछा किस लिए
छोरा बोल्या
हाँ घणे ऐ लिए ।

इस आदमी न के के चाख राख्या स

खराब खाना देख के घरवाला चिल्लाया
तन्ने यो गोबर जैसा लंच क्यू बनाया
सुन के पत्नी बोली
हे भगवान इतना गुस्सा वाला पति मन्नेऐ रख राख्या स
मेरे समझ में नही आ रही
इस आदमी न के के चाख राख्या स

तू बाथरूम की कुण्डी जरुर लगाइए

मलिका शेह्र्वत ने बाबा रामदेव त् पुछा
महाराज मैं योग मैं कितना टेम बिताऊ
अर न्यू बताओ नहाते टेम के लगाऊ
सुन के बाबा मुस्कुराया अर बोल्या
हे खुबसुरत छाया
योग मैं तेरा जी करें उतना टेम बिताइए
अर रही बात नहाते टेम लगाण की
तो नहाते बेटा तू बाथरूम की कुण्डी जरुर लगाइए

शादीशुदा ओरता मैं बचपन त ऐ दीवाना सु.

प्रेमिका ने प्रेमी ते पूछा
मेरे लिए न्यू कबतक आहे भरोगे
सच बताओ क शादी के बाद भी न्यू ऐ प्यार करोगे
सुनके प्रेमी न फरमाया नखरे तेरे सरे उठाऊंगा
जिंदगी भर तन्ने न्यू ऐ चाहूँगा
क्यू के मैं तेरी महोबत का फसाना सु
आर रही बात शादी के बाद की
तो शादीशुदा ओरता ka मैं बचपन त ऐ दीवाना सु.

मोटा आदमी

मोटा आदमी जद भी मुँह खोलेगा
देख लियो सच बोलेगा
क्यू के वो चालक होवे स '
सचाई त्याग नही सकता
आर कडवे बोल बोलके किसे न ओरा की ज्यूँ भाग नही सकता .

मेरा गिफ्ट दे

विदेश जाती पत्नी ने पति ते पुछा
अमेरिका में मैं कितने दिन लगाऊ
अर न्यू बताओ विदेश ते तुम्हारे लिए के ल्याऊ
सुनके पति मुस्कुराते हुए बोल्या
मेरी जाने तमन्ना जाने जिगर चिंगारी कोई भड़की लाना
और मेरे लिए विदेश ते कोई लडकी लाना
अब पत्नी चली गई अर वापिस आई तो पति बोल्या
ल्या मेरा गिफ्ट दे ' जिसको पाके मेरी उमीदो का फूल खिलेगा
इब पत्नी ने फरमाया ' तन्ने गिफ्ट में लड़की मांगी थी थोड़ा इंतजार कर
यो गिफ्ट तन्ने नो महीने बाद मिलेगा.

जब भी संकट आवे स

शादी के दस साल बाद पत्नी ने फरमाया
सुनो जी सुहागरात ने जद थमने मेरा घुंघट उठाया
तो किसा अक आनंद आया
सुन पत्नी की बकवास ' पति ने खिंची लम्बी साँस
अर बोल्या 'उस दिन ...उस दिन तो भगवान् मैं मारया जाता
तन्ने देख के अगर हनुमान चालीसा नही गुनगुनाता '
क्यू के या बात सारेऐ तो बतावे स
अक आदमी पे जब भी संकट आवे स तो वो
हनुमान चालीसा ऐ तो गुन्गुनावे स.

बदला लेवोगे अक लेवा पेमेंट

नोकर रामलाल भाग्या भाग्या आया अर आके यो संदेश सुनाया
बोल्या ' हजुर थारी इज़त पे दाग धर दिया स
अर गब्बर ने चोटी बहु का बलात्कार करदिया स
इब में न्यू पुछण आया सु
गब्बर ने क्यूकर देवा करंट
उसते आप बदला लेवोगे अक लेवा पेमेंट

ऑटोमेताक्ली

मास्टर जी बोल्ये बच्चो ऑटोमेताक्ली का अर्थ बताओ
नही तो धुप में खडे होके डंडे खाओ
सुनके एक छोरे ने हाथ उठाया अर फरमाया
ऑटो में बैठ के जद भी कोए गंजी चोरी जावे स
तो व ऑटो में तकली कहलावे स .

धरती वाले इब आप भुगतेंगे

मंत्रीजी के जन्म का बहुत बडा राज स्यामी आया
टीवी पे जद एक पत्रकार ने बताया
मंत्रीजी जद पैदा होए थे तो देवताओ ने फूल बरसाए थे
अप्सराओ ने मंगलगान गए थे' अर
ब्रह्मा विष्णु महेश तीनो आपस में बतलाये थे
चलो हमारा तो पीछा छुट्या धरती वाले इब आप भुगतेंगे.

माल

बचा अपने आप ने दोस्त भूचाल आवे स
नजर उठा के देख स्यामी एक माल आवे स
दोस्त ने सिर उठाया अर फरमाया
चोरी वास्तव में ऐ भूचाल स
या तो चलता फिरता माल स
पर ध्यान ते देख इसके चेहरे की रंगत उतर स
अर माल पे ध्यान आया न्यू बता आजकल भाभी के कर री स

राज

पत्नी ने घबराते हुए पति ते कह्या
न्यू में तो बीबी मैं थारी परमानेंट सु
अगर पीटो नही तो बताऊ मैं प्रेग्नेंट सु
सुनके पति ने बिखेरी मुस्कान
अर बोल्या' या तो खुसखबरी स
तन्ने क्यू पिटूँगा मेरी जान
इब पत्नी ने फरमाया था
बोली यो राज मैंने
क्वारेपण में अपने bapu  aage utarya tha
तो उसने मेरे खूब मारा था.

जद ऐ फेल होग्या

लड़का फेल होया तो बाप बोल्या....
बेटा तेरी हरकत ते मेरा दिल शर्मसार स
पड्डोसी की चोरी देख वा कितनी हुश्यार स
सुनके छोरे ने फरमाया बाऊजी
मैंने ख़ुद ते बहोत पढाया
पर पढ़ते पढ़ते मन में मेल होग्या
रोज पड़ोसी की छोरी देखू था जदऐ फेल होग्या

रस्सी आ फांसी खानी स.

मेरे इक दोस्त ने फरमाया ससुराल जाके यार मैं तो बहुत तंग आया
सारा खाली पेट रह्या कब खाना आवे रात दस बजे तक वेट रह्या
आख़िर देर रात साली ने रहम आया uसने आके फरमाया जीजा जी
थारे खातर कोए सेवा फ्र्माऊ के न्यू बताओ थारे खातरकुछ
खान् ने ल्याऊ के
इब खाना मांग के मैंने के बेजती करवानी स
मैंने भी कह दिया हाँ ले रस्सी आ फांसी खानी स.

धर्मात्मा

अपने धर्मात्मा होने की उसने या बात बताई
बोल्या मैंने कल रात एक भिखारी की जान बचाई
क्योकि मैं इक भिखारी ते बोल्या
तन्ने हजार का नोट दयूं तो के सुधर जावेगा
तो भिखारी बोल्या हजार का नोट आया बाद तो यो खुशी ते मर जावेगा
फेर उसने धर्मात्मा होण की निति अपनाई
अर भिखारी ते नोट न देके उसकी जान बचाई

हम मारां सा सीधे कौच

आस्ट्रेलिया की टीम बोली.....
खिलाड़ी हमने जीत खातर मैदान में उतारे स
देख लियो हमने लगते ऐ छक्के मारे स
सुंनके भारतीये टीम ने बांग लगाई
बोली...चोक तो हम भी मारां सां भाई
इब पाकिस्तानी टीम कई देर त रही थी सोच
वा उछल के बोली हम छके चोकके नही
हम मारां सा सीधे कौच

लागे स ड्राईवर मारया गया .

एक कबूतर कार ते टकरा गया
जख्मी होया तो ड्राइवर ने रहम आग्या
उसने घर ले आया 'अर उसका इलाज करवाया
जब वो होश में आया तो जोर ते चिल्लाया
.......हे ....भगवान ' मैं तो जेल में उतारा गया
लागे स ड्राईवर मारया गया .

सरदार जी ने अपना दिमाग लड़ाया

सरदार जी नंगे नहावे थे
उसका ससुर आया तो उसते देखते ही धमकाया
बोल्या....बेटा थोडी शर्म कर लिया कर
अर नहाते टेम कुछ पहर लिया कर
सरदार जी ने अपना दिमाग लड़ाया
अर भीतर जाके चपल पहर आया

जोर ते शंख ना बजाइए

दस्तां दवाई लेण के बाद इक पुजारी ने
परहेज पूछ्या तो डॉक्टर ने कुछ भी नही सुझ्या
पुजारी ते खाण पीण की सलाह देणके बाद बोल्या
शरीर बुढा हो लिया स इसने थोड़ा आराम दुवाइए
अर हो सके तो दो तीन दिन मन्दिर में ना जाइये
फेर भी अगर गलती ते जाना पडजा
तो तेरे लिए सबते बडा परहेज यो स
जोर ते शंख ना बजाइए

ल्यो भाईओ मेरी हरियाणवी मधुशाला से सोमवार के आप लोगो के लिए दो स्पेशल पैग,.....वैसे भी आज सारा दिन हल्की-हल्की बारिश रही है,, एन्जॉय करो,,,,,,,,,,,,



घी की ताकत छह मिह्न्या में, दारू की ताकत हाथों- हाथ
बस याहे सोच के दे री स, नई पीढ़ी बोतल का साथ
नौजवानों में मस्ती का गर दोस्तों संचार रहवेगा
सही कहू सु, देश वो तरक्की की और बहेगा

मेहँदी लगे हाथा त दुल्हन  गर पैग बनावे 
फेर अपने  होठा त छुके वा दारू दुल्हे न प्यावे
मस्ती बिखरे जीवन में आत्मा तक नशीली होज्या
न्यू रोज़ बोतल खोलन त जिंदगानी रंगीली होज्या