khas log

vmbechainblogspot.com

Sunday, 26 June 2011

नेता जी का हिसाब

सरपंच  ने ऍम एल ए त धमकाते  हुवे  कह्य , इब  क  तेरी  उम्मीदा  के कमल  ज्यादा  नहीं  खिलेंगे , और  तन्ने  म्हारे  गाँव  त  वोट  केवल  100 मिलेंगे , सुन  क  नेता  जी  का  दिमाग  चकराया  और  उसने  सरपंच  त  बताया , थारी  2000 की  जनसंख्या  अर वोट  मिलेंगे  100 जबकी म्हारे  गाँव  की  उरे  छोरी  ब्याह  राखी  200, वे  छोरी  अर  उनके  घरवाले  मेरा  कुछ  तो  ख्याल  करेंगे , मेरे  हिसाब  त  मेरे  1000 त  उप्पर  वोट  पड़ेंगे ,सुन  क  सरपंच  मुस्कुराया  अर  नेता  जी  त  समझाया , बोले  नेता  जी  वोट  की  गिनती  न  लेके  क्यू  दिमाग  खराब  कर रे  सो , थारे  गाँव  की  छोरी  और  उनके  घरवाले  तो  बी  वोट  पड़े 400, अब  नेता  जी  मंद  मंद  मुस्कुराये  अर  सरपंच  त  अपने  आंकड़े  बताये , बोले .......महरे  गाँव  की  छोरी  घाट  घाट  का  पानी  चाखे स , वे  इतनी  बेवकूफ  नहीं  स , जित  बी  रहवे  स  पांच पांच  यार  राखे  स

No comments: