khas log

vmbechainblogspot.com

Thursday, 21 July 2011

दामण बावन गज का भारी मिले तो बतो दियो
किते वा सामण की खुमारी मिले तो बता दियो
बहुत लम्बे टेम त भाईओ मैं परेशान हो रह्य सूं
कोए संस्कृति का पुजारी मिले तो बता दियो

No comments: